Keto for India

कीटो पालक पनीर और मटन करी रेसिपी

आज मैं आपके साथ दो अद्भुत भारतीय कीटो व्यंजनों को सांझा करने जा रही हूं। सबसे पहले एक शाकाहारी रेसिपी ‘पालक पनीर’ है जिसमे पालक करी और कॉटेज पनीर (Spinach curry with cottage cheese) है और दूसरी डिश मटन करी है जिसे लेजी मटन कहा जाता है। जिसके लिए कुछ ज्यादा सामग्री की आवश्यकता नहीं होती है। Keto Palak Paneer and Mutton Curry, ये दोनों व्यंजन बहुत ही स्वादिष्ट होते हैं और दोपहर या रात के खाने के रूप में परोसा जा सकते हैं।

पालक पनीर/पालक ग्रेवी के साथ टोफू क्यूब या कॉटेज पनीर (Palak Paneer/Spinach gravy with cubes of tofu or cottage cheese)

पालक पनीर एक उतर भारत की एक लोकप्रिय पकवान है, जो की आम तौर पर रोटी या पिटा ब्रेड (pita bread) के साथ खाया जाता है। हालांकि पहले से तैयार किया गया रेडीमेड पनीर के पैक्ड संस्करण बाजार में उपलब्ध हैं पर पनीर या कॉटेज पनीर (cottage cheese)आम तौर पर भारतीय घरों में भी बनाये जाते हैं। शाकाहारी लोग पनीर को टोफू के बदले उपयोग कर सकते हैं। पालक ग्रेवी क्रीमयुक्त और बहुत चिकनी (smooth)है।

पनीर और कॉटेज पनीर घर में कैसे बनाये?

गैस जलाइए और एक बड़े पैन में 1 लीटर क्रीम दूध (full cream milk)डालें। जब दूध उबलने की स्तिथि में आ जाये तो गैस के तापमान को कम कर दीजिये और उसमें दही के दो चम्मच डाल दें। दहीं पनीर की बनावट को चिकना करने में मदद करता है और पनीर को आपस में जोड़े रखता है। दूध में दहीं डालने के बाद उसे हिलाएं नहीं। अब इसमें दो ताजा नीम्बुओं का रस निचोड़ दें। चम्मच से दूध को हल्के से हिलाइये। अगर आपको लगता है की दही ठीक से जम नहीं रहा तो उसमें थोड़ा और नींबू का रस डाल दीजिये,लेकिन इसे हल्के से हिलाते रहिये।

एक बार जब दहीं गाढ़ा हो जाये उस समय आंच को दो मिनट के लिए तेज कर दीजिये और उसके बाद कम आंच पर पांच से सात मिनट तक दूध उबाल लें। अब पनीर को मलमल के कपड़े में डालकर दबाएं या झरनी (strainer) का उपयोग करें जिससे अतिरिक्त पानी बाहर निकल जाये। एक बार जब पानी निकल जाये तो पनीर को सख्त करने के लिए उसे फ्रिज में कुछ घंटों के लिए रख दें।

सामग्री

पालक ग्रेवी के तड़के के लिए:

गार्निश के लिए:

पालक पनीर बनाने की प्रक्रिया:

सबसे पहले ताजे पानी से पालक पत्तियों को अच्छी से धो लें। पालक के पत्ते की मुलायम डंडी का भी उपयोग किया जा सकता है,और बाकि के व्यर्थ हिस्सों को उपयोग न करें। गैस पर 5 से 6 कप पानी उबाल लें और उसमे धूलि हुई पत्तियों को डाल दें। पानी में एक चौथाई नमक डालें। चार से पांच मिनट के बाद पत्तों से पानी निचोड़ दें और पानी से अलग रखें।

सुझाव:यदि आप ग्रेवी को चमकते हुए रंग में रखना चाहते हैं, तो उबलते पानी के बर्तन को ऊपर से न ढकें।।

ठंडे पानी के बाउल में पालक की पत्तियों डाल दें ताकि वे गरम पानी के संपर्क में और ज़्यादा न पक जाये। पानी में थोड़ी सी बर्फ डालकर पत्तों को कुछ देर छोड दें।

एक ब्लेंडर (blender) में पत्तियाँ, कटा हुआ अदरक, लहसुन और हरी मिर्च डाल दीजिये। अच्छी और चिकनी प्यूरी बनाएं और उसे एक तरफ रखें दें।

ग्रेवी के तड़के के लिए:

घी या मक्खन को एक कड़ाही या पैन में गरम करें। ऊपर से जीरा छिड़क दें और तड़तड़ाहट होने दें। अब बारीक कटा हुआ प्याज डालें और प्याज के सुनहरा होने तक हल्के से हिलाते रहें। कटा हुआ टमाटर डालें और आंच को कम कर दें। टमाटर को तब तक हिलाते रहें जा तक वे नरम न हो जाये और तेल भी अलग हो जाये। आप कटे हुए टमाटर के स्थान पर टमाटर प्यूरी का उपयोग भी कर सकते हैं।

अब हल्दी और मिर्च पाउडर डालें और कुछ देर तक और पकाएं। गरम मसाला पाउडर डालें और फिर पनीर के टुकड़े डालें जिन्हें छोटे टुकड़ों में काटा गया है। पनीर के नरम होने तक इसे धीमी आंच पर धीरे से हिलाइये।

अब पालक प्यूरी डालें और आँच धीमी कर दें। पानी जिसका उपयोग पत्तों को हल्का उबालने के लिए इस्तेमाल किया गया था उसे कुछ अन्तराल पर नियमित रूप से डालते रहिये। एक बार जब ग्रेवी अच्छी और चिकनी हो जाये,आंच को बंद कर दीजिये।

पालक पनीर को परोसने से पहले अपने इसे beaten क्रीम और अदरक के लम्बे टुकड़ों के साथ गार्निश करें ( juliennes of ginger)।

सुझाव: आप टोफू या पनीर को ग्रेवी में डालने से पहले तल (fry)भी सकतें हैं। इसके अलावा जब भी आप पत्तियों को छाने तो उसके पानी को न फेंके। यह पानी तड़के के लिए और ग्रेवी बनाने के लिए भी इस्तेमाल किया जा सकता है।

यह रेसिपी मेरे बच्चों, जिनको पालक खाने से नफरत है, को भी बहुत पसंद आयी। मेरी छोटी बेटी कहती है कि यदि आप पालक पनीर खाते हैं तो – “आप एक शेर की तरह मजबूत हो जाते हैं!” (क्यूंकि मैंने ही उसे ऐसा बताया था) (“You become as strong as a lion!)।

प्रिया की कीटो Lazy Lamb Curry

आपके लिए मेरे पास जो दूसरी रेसिपी है वह एक बहुत सरल मटन करी है। यह मेरे आराम वाले खाद्य पदार्थों की सूची में बहुत ऊँचे स्थान पर है और यह एक आलसी शाम के लिए एकदम सही है जब आप कुछ ज्यादा (elaborate) पकाने के मूड में नहीं होते हैं।

सामग्री

गार्निश के लिए:

कटा हुआ धनिया या Cilantro leaves

प्रक्रिया:

मटन को पानी में 15 मिनट के लिए उबाल लें। नमक, इलायची, दालचीनी और तेज पत्ता डालें। एक बार मटन कुछ हद तक नरम हो जाये तो इसे एक तरफ रख लें। स्टॉक का उपयोग बाद में किया जाएगा जब मटन को कम आंच पर भुना जाएगा।

एक चौड़े पैन में घी डालें और तेज आंच में प्याज को भूरा करें। पैन में मिर्च पाउडर या साबूत सूखी लाल मिर्च,गरम मसाला और मटन के टुकड़े डालें। अब कम आंच पर मटन को 15 से 20 मिनट तक भुने।

दहीं को आराम से घोल लें और आराम से इसका इस्तेमाल करें। हर पांच से सात मिनट के बाद स्टॉक और दही को एक के बाद एक डालते रहें। एक बार जब मट्टन बन जाये तो उसके फैट (fat) अलग हो जायेगा जो की किनारों पर तैरने लगेगा। मटन को सीजन करें और बाकि का बचा हुआ स्टॉक डालकरपकाने तक तक ढक दें।

अगर आपके पास प्रेशर कुकर है और जब आप मटन को भून चुके हों तो प्रेशर कुकर बंद कर दें। दो सीटियां के बाद 15 मिनट के लिए आंच कम दीजिये। एक बार जब भाप निकल जाये तो जांच कर लें कि मीट नरम हो चूका हो।

सुझाव: इस रेसिपी को बनाने के लिए जो समय दिया गया है वह एक व्यस्क बकरी के मांस के लिए है न की मेमने (lamb) के लिए। अगर मेमने का मांस पकाया जाये तो यह समय काफी कम हो जायेगा।’

Keto Palak Paneer and Mutton Curry, इन दोनों व्यंजनों को बनाइये और मुझे आपकी प्रतिक्रिया बताएं

Exit mobile version