Keto for India

प्रिया का कीटो बॉम्बिल बत्तख का अचार

Keto-Bombil-Pickle

हम भारतीयों को हमारी चटनी, अचार इतना पसंद है कि आप भी हमें उनके साथ घूमते फिरते हुए पाएंगे। इसलिए जब मुझे मेल में कुछ सूखे बॉम्बिल डक (बत्तख) मिले, तो इसने मुझे इसके साथ अचार बनाने की कोशिश करने के लिए प्रेरित किया। अचार किसी भी डिश को मसालेदार और अधिक दिलचस्प बना सकता है। आप उन्हें अपने सादे उबले अंडे में और मीट में भी शामिल कर सकते हैं। या यहां तक कि आप सिर्फ इनका नाश्ता करें जब आप एक मसालेदार किक प्राप्त करना चाहते हैं।

आज का अचार बॉम्बिल डक के साथ बनाय है, जो एक सूखी मछली है, जो की भारत के तटीय क्षेत्रों में आसानी से पायी जाती है। लेकिन इस रेसिपी का उपयोग झींगा/श्रिम्प या सुखी मछली के साथ अचार बनाने के लिए किया जा सकता है। अचार पंद्रह से बीस दिनों के लिए रेफ्रिजरेटर में अच्छा रहता है। यह रेसिपी बनाने में बहुत आसान है और बहुत ही कीटो फ्रेंडली भी।

प्रिया का बॉम्बिल बत्तख का अचार

कीटो बॉम्बिल बत्तख अचार में कोई प्याज, टमाटर नहीं है। लेकिन आपको अनिवार्य रूप से कश्मीरी लाल मिर्च या साधारण सूखी लाल मिर्च की आवश्यकता है ताकि यह दिखने में आकर्षक लग सके।

कैसे बनाएं कीटो बॉम्बिल बत्तख का अचार

1.सुखी लाल मिर्च को रात भर सादे पानी में भिगो दें।

लाल मिर्च को रात भर भिगोएँ

2. बॉम्बिल मछली का वजन करें।

सुखी बॉम्बिल बत्तख

3. सिर, पिछला हिस्सा और पंख निकालें। अब लगभग इन्हे एक इंच के टुकड़ों में काट लें और इसमें कुछ सिरका डालकर पानी में भिगो दें। कम से कम 20 मिनट के लिए भिगोएँ।

पानी में बॉम्बिल भिगोएँ

4. अदरक और लहसुन के वजन के बाद इसे पीसने के लिए तैयार कर लें।

लहसुन
अदरक

5. अदरक, लहसुन और लाल मिर्च को उस पानी के साथ पीसें जिसमें मिर्च अच्छी तरह से भिगोई हुई थी। इसे तक तक पीसें जब तक कि आपको एक अच्छा पेस्ट न मिल जाए।

अदरक, लहसुन, लाल मिर्च को पीस लें
एक बढ़िया पेस्ट बनाएं

6. मछली को तलने से पहले अच्छी तरह से सूखा लें।

मछली को अच्छी तरह से सूखा लें

7. एक मोटे पैन या एक नॉन स्टिक पैन में 2 चमच्च तिल का तेल गर्म करें और मध्यम आँच पर मछली को फ्राई करना शुरू करें।

तिल के तेल में मछली को फ्राई करें

8. मछली को सुनहरा और कुरकुरा होने तक तलें। नियमित अंतराल पर टॉस करते रहें। मछली को अच्छे से तलने के बाद इसे अलग रख दें।

सुनहरा और कुरकुरा होने तक भूनें

9. एक कड़ाही में मध्यम आंच पर बचे हुए 1 चम्मच तिल के तेल को गर्म करें। अब इसमें कुछ करी पत्तियां डालें जब तक कि वे गहरे हरे रंग की न हो जाएं। इसके बाद कड़ाही में जीरा और सौंफ डालें। आँच कम करें।

करी पत्तियां
जीरा और सौंफ़ डालें

10. कड़ाही में पिसा हुआ मसाला डालें। तेल गरम होने तक धीमी आंच पर पकाएं। हल्दी पाउडर और नमक डालें। इस चरण में लगभग 10 मिनट लगेंगे। अब इस मसाले में सुखी हुई मछली डालें और हल्के हाथ से हिलाएं। आँच कम करें।

कम आंच पर मछली का मसाला पकाएं
मछली डालें

11.जब मछली पर मसाला अच्छी तरह से लग जाये उसके बाद नमक की जाँच करें। अब सिरका डालें और इसे एक बार फिर हिलाएं और आँच बंद कर दें।

12. पूरी तरह से ठंडा होने पर एक एयरटाइट कंटेनर में इसे स्टोर करें और इसका आनंद लें!

प्रिया का बॉम्बिल बत्तख का अचार

यह भी पढ़ें: कीटो लेमन बटर सॉस मछली

Exit mobile version